Journeys🧑‍🦯 Explorations🪂 and Adventures🧗
Gangotri
Gangotri

Gangotri

Gangotri धाम उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में स्थित पवित्र गंगा नदी का उद्गम स्थल है। यह भारत में सबसे प्रतिष्ठित तीर्थों में से एक है ,

यह उत्तरकाशी से 100 किमी दूर स्थित है। Gangotri समुद्र तल से 3100 मीटर की ऊंचाई पर स्तिथ है ।गंगोत्री का मुख्य आकर्षण माँ गंगा को समर्पित गंगोत्री मंदिर है। मंदिर हर साल मई से नवंबर तक 6 महीने खुला रहता है। अक्षय तृतीया पर, मां गंगा की मूर्ति को मुखबास (मुखीमठ) से गंगोत्री मंदिर में स्थानांतरित कर दिया जाता है। भाई दूज पर, मूर्ति को अगले 6 महीनों के लिए मुखीमठ में वापस कर दिया जाता है। मंदिर सुबह 4 बजे से रात 9 बजे तक खुला रहता है। आरती का समय सुबह 6 बजे और शाम 7:45 बजे है। Gangotri छोटा चार धाम तिर्थ यात्रा का हिस्सा है। यहाँ पर हजारों पर्यटक ओर भक्त आते है।यह बेहद ही सुंदर है।

Must know

उत्तरकाशी से मार्ग: उत्तरकाशी – हर्सिल – गंगोत्री
यमुनोत्री से मार्ग: जानकीचट्टी – बरखोट – भ्रामकल – धरासू – डूंडा – उत्तरकाशी – गंगोरी – मनेरी – भटवारी – गंगनानी – हरसिल – धराली – गंगोत्री
ऋषिकेश से मार्ग: ऋषिकेश – नरेंद्र नगर – चंबा – नई तिहारी – धरासू बेंड – उत्तरकाशी – हरसिल – गंगोत्री
उत्तरकाशी गंगोत्री के निकट निकटतम प्रमुख बिंदु है। कई तीर्थयात्री उत्तरकाशी में रुकते हैं और एक दिन के लिए गंगोत्री जाते हैं
गंगोत्री में विभिन्न गेस्ट हाउस, लॉज और धर्मशालाओं में आवास उपलब्ध है। इनके लिए कीमतें मौसम के अनुसार बदलती रहती हैं
भोजन: कुछ छोटे भोजनालय और रेस्तरां गंगोत्री मंदिर से 1 किमी पहले मुख्य बाजार में स्थित हैं।
गंगोत्री में मांसाहारी भोजन और शराब प्रतिबंधित है
वाहन के लिए पार्किंग शुल्क के रूप में गंगोत्री में प्रवेश करने से कुछ किमी पहले नगर पंचायत द्वारा INR 50 का शुल्क लिया जाता है

Places to visit in Gangotri

1 Gangotri temple

Gangotri temple

Gangotri मंदिर उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले मे गंगोत्री शहर मे स्तिथ है,यह मंदिर माँ गंगा को समर्पित है। लगभग 3000 मीटर की ऊंचाई पर स्तिथ यह मंदिर बेहद ही सुंदर है,मंदिर से हिमालय के अद्भुत नज़ारे दिखाई देते है। और मंदिर के पास से ही गंगा नदी बहती है,माना जाता है कि गंगा नदी का उद्गम इसी स्थान से हुआ था।लगभग 300 साल पहले, एक नेपाली जनरल अमर सिंह थापा ने देवी के प्रति सम्मान के प्रतीक के रूप में इस मंदिर का निर्माण किया था।

2.Kedar tal, Gangotri

kedar tal gangotri

केदार झील Gangotri मैं स्तिथ एक ग्लेसियर झील है जिसकी ऊंचाई समुद्र तल से लगभग 4425 मीटर की है।एडवेंचर करने बाले ट्रेकर्स के लिए ये स्वर्ग से कम नही ,ये झील ट्रेकिंग के लिए ही जानी जाती है।

3.Gangotri glacier

gangotri glacier

गंगोत्री ग्लेशियर हिमालय के सबसे बड़े ग्लेशियरों में से एक है और भारत की सबसे बड़ी नदी गंगा का प्राथमिक स्रोत है। ग्लेशियर लगभग 30 किलोमीटर लंबा और 4 किलोमीटर चौड़ा है। 

4.Gaumukh

gamukh gangotri

यह स्थान उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले मे 4023 मीटर की ऊंचाई पर स्तिथ है और पवित्र भागीरथी नदी का स्रोत है। यह गंगोत्री से 18 किमी दूर स्थित है और भारत का दूसरा सबसे बड़ा ग्लेशियर है। यह स्थान ट्रेकिंग के साथ साथ हिन्दू धर्म का एक पवित्र स्थान भी है। गौमुख केवल मई से अक्टूबर के बीच खुलता है और शेष वर्ष के लिए बंद रहता है।

5.Surya kund

surya kund gangotri

गंगोत्री मंदिर से 500 मीटर की दूरी पर स्थित गंगोत्री में सूर्य कुंड एक शानदार जलप्रपात है। सूर्यकुंड का धार्मिक महत्व है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि देवी पार्वती यहां स्नान करती थीं, सूर्य भगवान को श्रद्धांजलि अर्पित करती थीं। हर बार जब पानी कुंड में गिरता है तो एक इंद्रधनुष बनता है जबकि सूरज चमक रहा होता है। सूर्य कुंड जाने का सबसे अच्छा समय सुबह का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.